Ram Ji Ki Nikli Swari Lyrics – भजन की रहस्यमयी दुनिया

Ram Ji Ki Nikli Swari Lyrics भारतीय संस्कृति और धार्मिक अध्यात्म में भजनों का विशेष महत्व है। ये भजन भगवान की प्रीति और भक्ति का प्रतीक होते हैं, जो भक्तों के दिलों को मोहित करते हैं। इसी भावना के साथ, “राम जी की निकली सवारी” भजन ने भारतीय संस्कृति में अपनी विशेष पहचान बनाई है।

Ram Ji Ki Nikli Swari Lyrics

रामजी की निकली सवारी,
रामजी की लीला है,
एक तरफ लक्ष्मण एक तरफ सीता,
बीच में जगत के पालनहारी,
रामजी की, निकली सवारी,
रामजी की लीला है न्यारी…

सर पे मुकुट सजे मुख पे उजाला,
हाथ धनुष गले में पुष्प माला,
हम दास इनके ये सबके स्वामी,
अंजान हम ये अंतरयामी,
शीश झुकाओ राम गुण गाओ,
बोलो जय विष्णु के अवतारी…

धीरे चला रथ ओ रथ वाले,
तोहे खबर क्या ओ भोले भाले,
एक बार देखे दिल ना भरेगा,
सौ बार देखो फिर जी करेगा,
व्याकुल बड़े हैं कबसे खड़े हैं,
दर्शन के प्यासे सब नर नारी…

रामजी की, निकली सवारी,
रामजी की लीला हैं न्यारी…

चौदह बरस का वनवास पाया,
माता पिता का वचन निभाया,
धोखे से हर ली रावण ने सीता,
रावण को मारा लंका को जीता,
तब तब ये आए, तब तब ये आए,
जब जब ये दुनिया इनको पुकारी…

रामजी की, निकली सवारी,
रामजी की लीला हैं न्यारी…

रामजी की, निकली सवारी,
रामजी की लीला है,
एक तरफ लक्ष्मण एक तरफ सीता,
बीच में जगत के पालनहारी,
रामजी की, निकली सवारी,
रामजी की लीला है न्यारी…

Ram Ji Ki Nikli Swari Lyrics भजन के अर्थ

“राम जी की निकली सवारी” भजन एक आदर्श उपासना का प्रतीक है जो भगवान राम के भक्तों की आत्मा को उनकी दिव्यता के प्रति जागरूक करता है। इस भजन में भगवान राम की पूजा के माध्यम से उनके अनुयायियों को शांति, समृद्धि, और सफलता की प्राप्ति के मार्गदर्शन का संदेश मिलता है।

भजन के शब्द

Ram Ji Ki Nikli Swari Lyrics भजन के शब्द गहरी भावनाओं को सुंदरता के साथ प्रकट करते हैं। ये भजन के शब्द न केवल संगीत की मधुरता के साथ सुनाए जाते हैं, बल्कि उनमें छिपे भावनाओं को भी उजागर करते हैं। भजन के शब्दों में राम की महिमा, उनके लीलाओं की गाथाएं, और उनके दिव्य अस्तित्व की महत्वपूर्ण बातें दर्शाई जाती हैं।

भजन के संगीत

Ram Ji Ki Nikli Swari Lyrics भजन की संगीतमयता भी उसकी विशेषता है। इस भजन का संगीत उत्कृष्ट ढंग से आयोजित है, जो श्रद्धालुओं के दिलों में गहराई तक पहुँचता है। संगीत की सुंदरता में भगवान की महिमा और उनके दिव्य रूप की प्रशंसा होती है।

भजन का महत्व

Ram Ji Ki Nikli Swari Lyrics भजन का महत्व आध्यात्मिक दृष्टिकोण से भी बहुत ऊँचा है। यह भजन भगवान के प्रति भक्ति और श्रद्धालुता की भावना को प्रकट करता है, जिससे व्यक्ति का मानसिक और आध्यात्मिक विकास होता है। इसके अलावा, यह भजन धार्मिक एवं सांस्कृतिक महत्व के रूप में भी महत्वपूर्ण है और लोगों के दैनिक जीवन को सकारात्मक दिशा में प्रवृत्त करता है।

समापन

Ram Ji Ki Nikli Swari Lyrics भजन एक ऐतिहासिक और आध्यात्मिक दृष्टिकोण से महत्वपूर्ण भजन है, जो भगवान राम के भक्तों की आत्मा को उनके दिव्यता के प्रति जागरूक करता है। इस भजन के शब्द, संगीत, और महत्वपूर्ण संदेश ने इसे एक अद्वितीय रूप से उभारा है। यह भजन भारतीय संस्कृति और आध्यात्मिकता के मूल मूल्यों को प्रकट करता है और उनकी उपासना का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बनता है।

WATCH VIDEO

ALSO READ……….

Sita Ram Ji Ki Pyari Rajdhani Lage Lyrics – 2023

Ram Ji Ki Aarti Lyrics In Hindi – समर्पण और भक्ति से आरती

0 - 0

Thank You For Your Vote!

Sorry You have Already Voted!

Leave a comment